Loading...

सोमवार, अक्तूबर 07, 2013

इस वर्ष नवरात्रि लोक कल्याण का मार्ग प्रसस्त करेगी

मां दुर्गा की आराधना का पर्व, नवरात्रि इस वर्ष लोक कल्याण का कारक बनेगा | जो योग इस वर्ष बने हैं वह एक खास योग है। नवरात्रि का प्रारंभ शनिवार, 5 अक्टूबर 2013 से हुआ | शनि इस समय
राहु के साथ तुला राशि में स्थित है। मिथुन, सिंह, तुला और कुम्भ राशि को विशेष लाभ के योग बनेंगे|
इस प्रकार की ग्रह स्थिति और नवरात्रि का योग 147 वर्ष पहले बना था। इसके बाद यह दुर्लभ योग 148 वर्ष बाद सन 2161 में बनेगा। शनि वर्तमान में अपनी उच्च तुला राशि में विराजमान है। साथ में राहु भी स्थित है। तुला राशि का स्वामी शुक्र है जो कि माताजी की प्रसन्नता के लिए विशेष महत्व रखता है।
तुला राशि में  शनि कर्म आधारित न्याय करता है इसलिए मेहनत करने वाले किसानों और श्रमिकों का समय अच्छा रहेगा | तदनुसार, आने वाले समय में फसलों की अच्छी आवक होगी एवं कारोबार में रौनक बनी रहेगी। किसानों को लाभ होगा एवं जनमानस में उत्साह एवं खुशियां रहेंगी।

अच्छी वर्षा के योग बनेंगे। मूल्यवान धातुओं के भाव का पलड़ा ऊपर नीचे होता रहेगा | न्याय एवं सुशासन के लिए जनता एवं सरकार के मध्य संघर्ष की सम्भावना बनती है। लेकिन इस वर्ष चुनाव होने से यह संघर्ष मतपेटियों में झलक सकता है परिणामस्वरुप मध्यप्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, छत्तीसगढ़ के होने वाले चुनावों में सत्तासीन पार्टियों को कड़ी मेहनत करना होगी। चुनाव परिणाम जाति या धर्म के स्थान पर सरकारों के कार्य पर आधारित होंगे |



अन्य पोस्ट :
सूर्य का मिथुन राशि में भ्रमण  

शनि ने बदली राशि : बदलेगी किस्मत ?

क्या मुलायम प्रधानमंत्री बन सकते हैं ?
 
 

 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें